lokgeet

‘बायरियो’ क्या है?

‘बायरियो’ क्या है? (1) ढूंढाड़ अंचल में विवाह के समय मायरा भरना (2) पश्चिमी राजस्थान में पेशेवर गायकों-लंगे, मांगणियार राजस्थान का रजवाड़ी गीत आदि द्वारा गाया जाने वाला लोकगीत। (3) हाडौती क्षेत्र में ‘न्हाण’ के अवसर पर गाया जाने वाला लोक गीत (4) शादी-विवाह के अवसर पर गाया जाने वाला गीत

पवाड़े क्या होते हैं?

पवाड़े क्या होते हैं? (1) लोकनायकों की वीर रसात्मक लोक गाथाएँ। (2) गणगौर पर वधू द्वारा सास को दी जाने वाली प्रतीक की वस्तुएँ। (3) बच्चा होने के बाद सूरज पूजन समय गया जाने वाला लोकगीत (4) उपरोक्त में से कोई नहीं।

‘बियाणा’ क्या है?

‘बियाणा’ क्या है? (1) बच्चा होने के बाद सूरज पूजन के समय गाया जाने वाला लोकगीत (2) रोमांच कथात्मक लोक वार्ताएँ। 3) प्रेमकथात्मक लोक कथाएँ। (4) धार्मिक कथात्मक लोक कथाएँ।

विनायक-पूजा के पश्चात् प्रतिदिन रात्रि में वर की प्रशंसा में जंवाई के प्रथम बार ससुराल आने पर किये जाने वाले गाए जाने वाले गीत क्या कहलाते हैं?

विनायक-पूजा के पश्चात् प्रतिदिन रात्रि में वर की प्रशंसा में जंवाई के प्रथम बार ससुराल आने पर किये जाने वाले गाए जाने वाले गीत क्या कहलाते हैं? 1) गाडूलौ (2) बनड़े (3) दोहद (4) अजमौ

रूपीड़ो, झालो व झूटणियो क्या हैं?

रूपीड़ो, झालो व झूटणियो क्या हैं? (1) राजस्थानी लोकगीत। (2) स्त्रियों द्वारा गले में पहने जाने वाले आभूषण। (3) संस्कार। (4) राजस्थान के विशेष लोक वाद्य। 

‘गाडूलौ’ क्या है?

‘गाडूलौ’ क्या है? (1) एक लोक गीत। (2) उपनयन संस्कार के समय प्रयुक्त यंत्र। (3) विवाह के अवसर पर विनायक-पूजा के समय किया जाने वाला संस्कार। (4) एक लोक नाट्य।

‘बीछूड़ो’ क्या है?

‘बीछूड़ो’ क्या है? (1) पैर में पहना जाने वाला एक आभूषण। (2) हाड़ौती क्षेत्र का एक लोकगीत। (3) गज की सहायता से बजाया जाने वाला वाद्य। (4) शेखावाटी क्षेत्र का एक लोकगीत।

‘अजमौ’ क्या है?

‘अजमौ’ क्या है? (1) यज्ञोपवीत संस्कार के समय गाए जाने वाले गीत। • (2) गर्भावस्था के आठवें मास में गाए जाने वाले गीत। (3) फेरे लेते समय कन्या पक्ष की स्त्रियों द्वारा गाए जाने (4) वर-वधू के तेल चढ़ाते समय गाए जाने वाले गीत ।